Vedic Astrology  के अनुसार ,जन्म के समय मौजूद ग्रहों की स्थिति और नक्षत्रों के आधार पर हमारी कुंडली का निर्माण होता है और फिर यही ग्रह अपने-अपने स्वभाव के अनुरूप हमारे जीवन को चलाते हैं।

vedic  astrology  में नक्षत्रों का विशेष महत्व है। आपके जन्म के समय चन्द्रमा जिस नक्षत्र में स्थित होता है , वही आपका जन्म नक्षत्र कहलाता है| 

आपके सही जन्म नक्षत्र पता होने के बाद आपके बारे में बिल्कुल सही भविष्यवाणी  ( kundli  prediction ) की जा सकती है। भारतीय ज्योतिष  ( Indian  Astrology ) में बहुत से नक्षत्र  ( naksatr ) है जैसे की अश्विनी, मृगसर, पुनर्वसु, उत्तराफाल्गुनी, हस्त, चित्रा, विशाखा, रेवती आदि।

लेकिन हम बात करते  है रेवती और अश्लेषा नक्षत्र की -

27 नक्षत्रों में से रेवती को 27वां तथा अन्तिम नक्षत्र माना जाता है।


रेवती नक्षत्र - 

  • रेवती का शाब्दिक अर्थ है धनवान अथवा धनी, इस नक्षत्र का स्वामी बुध है, देवता पूषा हैं, और राशि स्वामी गुरु है। 
  • गुरु बुध की युति जिस भाव में होगी वैसा फल देगा।
  • इस नक्षत्र से विद्या का आरंभ, गृह प्रवेश, विवाह, सम्मान प्राप्ति, देव प्रतिष्ठा, वस्त्र निर्माण इत्यादि कार्य संपन्न किए जाते हैं।
  • जिन लोगो का जन्म इस नक्षत्र में होता है वह बुध महादसा में जन्म लेते हैं। तथा तेजस्वी, सुंदर, चतुर, विद्द्वान होते हैं। धन धान्य से युक्त होते हैं।
  • इस नक्षत्र में जन्मे व्यक्ति को सरकारी नौकरी , बैंक, शिक्षा, लेखन, व्यापार , ज्योतिष एवं कला के क्षेत्र में कार्य करते देखा गया है| 

 इस नक्षत्र में जन्मे व्यक्ति को अपने जीवन में माता पिता का सहयोग कभी नहीं प्राप्त होता है. यही नहीं उनका करीबी मित्र या रिश्तेदार भी कष्ट के समय उनका साथ नहीं देते हैं परन्तु उनका दाम्पत्य जीवन बहुत खुशहाल होगा. विवाह उपरान्त उनका जीवन साथी उनका हर प्रकार से सहयोग करेगा तथा उनका जीवन सुखमय और आनंदित रहेगा | 


आश्लेषा नक्षत्र - 

  • आश्लेषा नक्षत्र में जन्मा जातक प्रत्येक कार्य में सफल होता है। आश्लेषा नक्षत्र नौवाँ नक्षत्र है। यह कर्क राशि के अंतर्गत आता है।
  •  इस नक्षत्र का स्वामी बुध है। इन नक्षत्र में जन्म लेने वालों को बुध व चंद्र का प्रभाव पड़ता है। 
  • बुध ज्ञान का कारक है। यह वणिक ग्रह भी माना गया है ।
  • इस नक्षत्र में जन्मे व्यक्ति की आँखों एवं वचनों में विशेष आकर्षण होता है. 
  • लग्न स्वामी चन्द्रमा के होने के कारण ऐसे जातक उच्च श्रेणी के डॉक्टर ,वैज्ञानिक या अनुसंधानकर्ता भी होते हैं क्योंकि चन्द्रमा औषधिपति हैं.| 
  • इस नक्षत्र में जन्मे जातक बहुत चतुर बुद्धि के होते हैं | 
  •  आप अक्सर जन्म स्थान से दूर ही रहते हैं | 


Kundli / Horoscope   के nakshatr  के द्वारा आप बहुत कुछ  जान सकते हैं जैसे की किस क्षेत्र में कॅरियर बनाना आपके लिए फायदेमंद होगा।
ज्योतिष विशेषज्ञों का कहना है कि इन 27 नक्षत्र में से आपका जन्म किस नक्षत्र में हुआ है, इसके आधार पर अगर आप अपने कॅरियर का निर्धारण करेंगे तो आपको सफलता अवश्य मिलेगी।

अश्विनी नक्षत्र -

  • अश्विनी नक्षत्र में जन्मे जातक अगर यातायात से जुड़ा कोई कार्य करेंगे तो उन्हें सफलता मिलेगी। 
  • इसके अलावा खेल, दवाइयां, कृषि, जिम, जौहरी, सुनार आदि से संबंधित क्षेत्र भी फायदा पहुंचाएंगे।  

भरणी नक्षत्र - 

  • भरणी नक्षत्र में जन्में जातकों को जन्म देने वाली दाई, गृह सेवक, शवगृह अधिकारी, दाह संस्कार से संबंधित कार्य करने चाहिए।
  •  वे बच्चों का ध्यान रखने वाले या नर्सरी स्कूल के अध्यापक के तौर पर भी कार्य कर सकते हैं।
  •  तंबाकू, कॉफी, चाय से जुड़े क्षेत्र भी लाभ पहुंचाएंगे।

कृत्तिका नक्षत्र - 

  • कृत्तिका नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग ऐसे क्षेत्र में सफल हो सकते हैं जो नुकीली चीज या तेज धार से जुड़े हों। 
  • आप चाकू, तलवार के निर्माण से जुड़ सकते हैं या फिर अच्छे लोहार या वकील भी साबित हो सकते हैं। 
  • अगर आप ऐसे किसी कार्य से जुड़ते हैं जिसके अनुसार नशे के आदी लोगों को सुधारा जाता है तो अवश्य सफलता मिलेगी।

रोहिणी नक्षत्र - 

  • रोहिणी नक्षत्र से संबंधित लोग खानपान के कार्य से जुड़ेंगे तो सफलता मिलेगी। खाना बनाना हो या फिर बांटना, ये कार्य आपके लिए उत्तम हैं। 
  • इसके अलावा कला का क्षेत्र भी आपके लिए है। आप अच्छे कलाकार, गायक, संगीतकार भी हो सकते हैं। 
  • इस नक्षत्र में जन्मे लोग रचनात्मक होते हैं।

मृगशिरा नक्षत्र - 

  • यात्रा से जुड़े कार्य में अगर आप संलग्न हैं तो आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। 
  • इसके अलावा शिक्षा, खगोलशास्त्र, पैसे का हिसाब-किताब रखना, ये सभी क्षेत्र भी आपको लाभ दिलवाएंगे। 
  • कपड़े के काम में लिप्त लोगों को भी लाभ मिलेगा।

आर्द्रा नक्षत्र - 

  • बिजली के उपकरण या बिजली से संबंधित कोई अन्य कार्य करना आपके लिए फायदेमंद रहेगा। 
  • कंप्यूटर, तकनीक, गणित, वैज्ञानिक, गेमिंग, आदि से संबंधित क्षेत्र आपके लिए हैं। 
  • इसके अलावा डिब्बा बंद खाद्य पदार्थ का काम भी आपको सूट करेगा। 
  • अगर आप जासूस हैं या रहस्य सुलझाने जैसे कार्य कर रहे हैं तो भी आपको सफलता मिलेगी।

Comments
Comments
Pankaj Pandit Nice
Reply 2018-05-05 15:45:22.0
Munesh Kumar Paise ki kami rehti hai, Ghar me kalesh bhi hota hi rehta hai. aalasy bahut rehta hai, Koi bhi kaam poora nhi kr pata, VAni me bhi dosh hai bolna kuch chahta hun kuch or nikal jata hai. DOB 30 Oct 1983, Time 16:47Min, Delhi.
Reply 2018-05-04 17:16:02.0
rachna jain nice
Reply 2018-05-04 15:55:10.0
Ashok Chandra Agarwal Meri arthik ishthiti bahut kharab Hai koi upay bataye
Reply 2018-05-04 13:21:57.0
Rakesh kumar choudhary 27 may 1973, Muzaffarpur Bihar, 11 AM वर्तमान समय में job के लिये कौन सा क्षेत्र अच्छा रहेगा।
Reply 2018-05-04 12:44:20.0

Latest Post